ये लंगर वाले भूख ही नहीं, ज़िंदगी की जंग में भी आपके साथ-बाबा नानक के सिपाही गुरुद्वारे में उपलब्ध कराएंगे सस्ता इलाज!

cheap medicine and cure in gurudwara,gurudwara cheap health services,hospital by gurudwara,bala hospital,bala hospital saray kale khan delhi,dsgpc,delhi sikh gurudwara prabandhak commety,manjindar sirsa,bangla saheb,gurudwara bangla saheb, hospital bangla saheb,langar,hunger,550th, 550th guru nanak dev,sudip singh pro,sudip singh pro dsgpc,Opposition news, oppositionnews,
cheap health services medicine and cure in gurudwara

नई दिल्ली (12 नंवबर 2019)- पेट की भूख से बेहाल लोग जानते हैं कि हरमंदर साहिब से लेकर दुनियां के किसी भी कोने में मौजूद गुरुद्वारे में भरपेट भोजन, बिना किसी का धर्म पूछे मिल सकता है। जी हां खालसा पंथ और सिख धर्म के सच्चे सिपाही गुरुद्वारे में हर आने वाले इंसान की बेहद ख़िदमत और आवभगत करते हैं। यहां तक कि करोड़पति भी गुरुद्वारे में आने वालों की जूतियों को उठाने मे फ़ख़्र महसूस करता है।
दुनियांभर में गुरुद्वारों मे चलने वाले लंगर को कौन नहीं मानता। और अब भूख के ख़िलाफ लड़ने वाले बाबा नानक देव जी के यही लंगर वाले सिपाही जीवन बचाने में भी मदद करने की ठान चुके हैं।
दरअसल किसी बीमार के लिए मंहगी दवाईयां और अस्पतालों ख़ासतौर से प्राइवेट अस्पतालों का महंगा इलाज जानलेवा होता जा रहा है। ऐसे में सिख समाज ने तय किया है कि उनके द्वारा संचालित अस्पतालों में सस्ता इलाज मुहय्या कराया जाए। इसकी शुरुआत दिल्ली मे की जा रही है, जहां दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी यानि डीएसजीएमसी द्वारा पहल सराय काले खां में 500 बिस्तरों वाले सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल बालाजी और बंगला साहिब गुरुद्वारा से की जा रही है। बंगला साहिब में पर 5-10 हजार में होने वाले एमआरआई और सी.टी स्कैन सिर्फ 50 रुपए में किये जाएंगे।
दिल्ली हो या देश का कोई हिस्सा किसी भी प्राइवेट अस्पताल में एमआरआई और सी.टी स्कैन कराने के लिए पांच से दस हजार रुपए तक ख़र्च हो सकते हैं। उधर सरकारी अस्पतालों मे और भी बुरा हाल है। हांलाकि सरकारी अस्पताल में दावा तो यही किया जाता है कि सब कुछ सस्ता होगा, लेकिव भीड़ और सरकारी व्यवस्था मरीज के लिए जानलेवा ही होती जा रही है। ऐसे में दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा सराय काले ख़ां और गुरुद्वारा बंगला साहिब की पहल क़ाबिल ए तारीफ क़दम है।
यूं तो दिल्ली में एम्स सहित दर्जनों बड़े बड़े और वर्लड क्लास हॉस्पिटल्स मौजूद हैं। ये भी सच्चाई है कि देशभर से आने वाले मरीज़ों की बेतहाशा भीड़ के बावजूद यहां की व्यवस्था अपनी कैपिसिटी से ऊपर जाकर मानवीय आधार पर लोगों के जीवन को बचाने के भरपूर प्रयास करती है। लेकिन भीड़ और सीमित संसाधनों के बीच मरीजों को अक्सर परेशानी की शिकायत रह जाती है। ऐसे में गुरुद्वारा बंगला साहिब ने जनता और गरीब इंसानों के लिए बड़ा क़दम उठाया है। जहां पर मरीज़ो को 5 से 10 हजार रुपए के बजाय सिर्फ 50 रुपए में दोनों जांचों को करवा सकेंगे। इस बारे में दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रवक्ता सुदीप सिंह ने बताया कि जल्द ही इसके लिए मशीनों का इंतज़ाम किया जा रहा है। साथ ही उन्होने बताया कि हरकिशन आयुर्विज्ञान एवं अनुसंधान संस्थान और इसका सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल सराय काले खां स्थित गुरुद्वारा बाला साहेब के बगल में शुरु किया जा रहा है। उंहोने बताया कि डीएसजीएमसी के अध्यक्ष सरदार मनजिंदर सिंह सिरसा ने 550 बैड वाले इस अस्पताल के लिए एक करोड़ एक लाख रुपय और जनरल सैक्रेट्री हरमीत सिंह ने अस्पताल में इस्तेमाल होने वाली शटिरग का खर्चा दान किया है। सुदीप सिंह ने बताया कि 500 करोड़ की लागत वाले इस अस्पताल का निर्माण हांलाकि कई साल पहले शुरु किया गया था,और इसका काफी कार्य हो भी चुका है लेकिन अब इसके कार्य को पूरा करने के लिए 17 नवंबर से कारसेवा शुरु की जाएगी। साथ ही सुदीप सिंह जी ने बताया कि अगले साल यानि बाबा नानक देव जी के 551वें प्रकाशोत्सव तक इसको पूरा करने का लक्ष्य है।
सुदीप सिंह ने बताया कि गरीब मरीजों की सेवा के लिए आज भी बाला साहब अस्पताल में कैंसर के इलाज के लिए कीमो, डायलेसिस काफी कम रेट पर इलाज किया जा रहा है। सिख समाज की गुरुद्वारों में इस पहल के बाद लोगों का काफी राहत मिलेगी साथ ही सरकारी अस्पतालों में भीड़ काबू में आ जाएगी।
उधर गुरुद्वारा बंगला साहिब में सिर्फ 20-50 रुपए में सुविधाएं मिलने,मरीजों के साथ आने वाले लोगों के लिए गुरुद्वारे में ठहरने के लिए भी सराय और गुरुद्वारा में दोपहर और शाम को लंगर मिलने से यकीनन गरीब मरीजों की खाने-ठहरने की परेशानी भी दूर होगी। दपअसल गुरुद्वारा में एमआरआई और सीटी स्कैन मशीनें लगाने का यह प्रस्ताव पिछले कई साल से है। जो कि अब जल्द ही पूरा होने के आसार है। जबकि फिलहाल अभी तक बंगला साहिब में एक पॉलीक्लीनिक कार्यरत है। जिसमे दांतों और आंखों के इलाज के अलावा ईसीजी वगैरा भी होता है।

ग़ाज़ियाबाद में भी गुरुद्वारे की बड़ी पहल-केंद्रीय मंत्री वी.के सिंह ने किया उद्घाटन

गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा इंदिरापुरम में मंगलवार को गुरु नानक देव जी के 550 में प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में मुफ्त डायलिसिस सेवा यूनिट मंगलवार को शुरू हो गया । डायलिसिस सेवा का उद्घाटन सांसद व केंद्रीय मंत्री डॉ वीके सिंह ने फीता काटकर किया। इस अवसर पर डॉ वीके सिंह ने गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा में गुरु ग्रंथ के सामने मत्था टेका और देश नागरिकों के लिए के अच्छे भविष्य के लिए गुरु नानक देव जी से प्रार्थना की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह बहुत पुनीत कार्य है कि हमारे गुरुद्वारे के सेवादारों ने आम जनता की भलाई के लिए चिकित्सा सेवा शुरू की हुई हैं। इंदरप्रीत सिंह ने बताया कि गुरुद्वारे में ब्लेड टेस्ट में 70 प्रतिशत सिटी स्केन 50 प्रतिशत आँख की जाँच और अन्य विमारियों का ईलाज किया जाता है और मुफ्त दवाइयां दी जाती रही है और आज से मुफ्त डायलसिस सेवा देने वाली यूनिट का शुभारंभ उनके द्वारा किया गया है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में पेशाब संबंधी बीमारियां बढ़ रही हैं और उसके इलाज की भी जरूरत है। आम आदमी के लिए यह डायलिसिस यूनिट्स वरदान साबित होगी।
इस अवसर पर गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी गाजियाबाद के सरदार मंजीत सिंह, जगमीत सिंह गुरुद्वारा इंदिरापुरम के प्रधान गुरप्रीत सिंह रम्मी ,उपेंद्र सिंह जस, जय वीर सिंह रेखी, शमशेर सिंह बल ,सतपाल सिंह मितरा, महेंद्र सिंह सोढ़ी तथा इंद्रप्रीत सिंह ,भाजपा नेता पप्पू पहलवान एवं संजीव शर्मा आदि विशेष रूप से उपस्थित थे ।

About The Author

आज़ाद ख़ालिद टीवी जर्नलिस्ट हैं, सहारा समय, इंडिया टीवी, वॉयस ऑफ इंडिया, इंडिया न्यूज़ सहित कई नेश्नल न्यूज़ चैनलों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके हैं। Read more

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *