दिल्ली में पांच लाख रेहड़ी पटरी वालों के साथ हो रहा अन्याय:अजय माकन

ajay makan in a meeting with vendors
नई दिल्ली(22जुलाई2015)- दिल्ली में कांग्रेस रेहड़ी पटरी वालों के लिए संघर्ष के लिए मन बना चुकी है। इसी को लेकर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन की अध्यक्षता में दिल्ली रेहड़ी पटरी और असंगठित कामगार कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में एक बैठक हुई। जिसमें पुरानी दिल्ली के जामा मस्जिद, चांदनी चौक, मीना बाजार साइकिल मार्किट व अन्य पुरानी दिल्ली के अन्य इलाको से आऐ रेहड़ी पटरी वालों ने अपनी समस्याए बताईं।
दिल्ली प्रदेस कांग्रेस कार्यालय के सचिव प्रमोद कुमार द्वारा एक रिलीज़ के मुताबिक़ रेहड़ी पटरी वालों ने बताया कि दिल्ली नगर निगम, गुंडे व अन्य लोग वहां के रेहड़ी पटरी वालों को परेशान कर रहे है। इस मौके पर बोलते हुए अजय माकन ने कहा कि न सिर्फ पुरानी दिल्ली के रेहड़ी पटरी वालों के साथ अन्याय हो रहा है बल्कि पूरी दिल्ली के 5 लाख से ज्यादा रेहड़ी पटरी वालों के साथ अन्याय हो रहा है। माकन ने बताया कि कांग्रेस की यूपीए सरकार ने 2014 कानून पास किया था जिसमें रेहड़ी पटरी वालों के अधिकारों को सुरक्षित रखते हुए उनको अपनी जीविका कमाने का अधिकार दिया गया था। साथ ही उन्होने आरोप लगाया कि केजरीवाल सरकार ने अभी तक एक भी रेहड़ी पटरी वाले को इस कानून के तहत प्रमाण पत्र नहीं दिया जिस कारण दिल्ली नगर निगम व अन्य एजेंसियां आऐ दिन रेहड़ी पटरी वालों को तंग करही है। उन्होने रेहड़ी पटरी वालों को विश्वास दिलाया कि वे स्वयं पुरानी दिल्ली में व्यक्तिगत रुप से इन रेहड़ी पटरी वालों की जगह का मौयना कर उनकी समस्याओं से रुबरु होंगे रेहड़ी पटरी वालो के प्रतिनिधिमंडल के साथ दिल्ली के उपराज्यपाल व पुलिस कमश्निर से मिलेंगे व उनकी समस्याओं के समाधान के लिए उनसे चर्चा करेंगे ताकि रेहड़ी पटरी वाले अपनी जीविका आसानी से कमा सके व उनको भविष्य में कोई समस्याऐं न हो। प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन के अलावा दिल्ली रेहड़ी पटरी एवं असंगठित कामगार कांग्रेस के चैयरमेन अनुराग शंकर, साउथ दिल्ली रेहड़ी पटरी साप्ताहिक बाजार फेडरेशन के अध्यक्ष श्रीराम, ब्रहम यादव, आर.मनी. नायडू, अब्दुल अजीज, जाहिद मलिक, बच्चन कुमार मिश्रा, ईमरान खान अखिल खान आदि भी उपस्थित थे।

About The Author

आज़ाद ख़ालिद टीवी जर्नलिस्ट हैं, सहारा समय, इंडिया टीवी, वॉयस ऑफ इंडिया, इंडिया न्यूज़ सहित कई नेश्नल न्यूज़ चैनलों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके हैं। Read more

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *